Question :

नाभिकीय रियेक्टर में भारी जल (D2O) का प्रयोग किस रुप में किया जाता है?


A) मंदक
B) शीतलक
C) परिक्षक
D) नियंत्रक

Answer : A

Description :


नाभिकीय रियेक्टर में भारी जल (D2O) का प्रयोग मंदक (Moderator) के रुप में होता है।

 

ग्रेफाइट का उपयोग भी मंदक के रुप में होता है।

 

न्यूट्रॉन को अवशोषित करने वाला छड़ नियंत्रक छड़ कहलाता है यह बोरोन तथा कैडमियम का बना होता है।


Related Questions - 1


कपूर का आसानी से शोधन करने का प्रक्रम है -


A) ऊर्ध्वापातन
B) आसवन
C) क्रिस्टन
D) अवसादन

View Answer

Related Questions - 2


निम्नलिखित तत्व से सर्वाधिक यौगिक बनते हैं-


A) हाइड्रोजन
B) कार्बन
C) ऑक्सीजन
D) नाइट्रोजन

View Answer

Related Questions - 3


आवर्त सारणी में निम्न में से किसकी शून्य इलेक्ट्रॉन बंधुता (एफिनिटी) है?


A) रेडियम
B) ऑक्सीजन
C) नाइट्रोजन
D) रेडॉन

View Answer

Related Questions - 4


व्यापारिक तौर पर अमोनिया का उत्पादन अत्यावश्यक है क्योंकि यह निम्नलिखित के काम में आता है -


A) बहुलकीकरण से प्रोटीन बनाने में
B) साबुन बनाने में
C) कृत्रिम खाद्य पदार्थ बनाने में
D) उर्वरक बनाने में

View Answer

Related Questions - 5


पृथ्वी की पपड़ी में विशुद्ध रुप में पाई जाने वाली धातु है -


A) सोडियम (Na)
B) मैग्नीशियम (Mg)
C) तांबा (Cu)
D) प्लेटिनम (Pt)

View Answer