Question :

‘ब्रजभाषा’ का केन्द्रीय क्षेत्र है:


A) लखनऊ
B) इलाहाबाद
C) मथुरा
D) वाराणसी

Answer : C

Description :


ब्रजभाषा आज के समय में प्राथमिक तौर पर एक ग्रामीण भाषा है, जो कि मथुरा – भरतपुर केन्द्रीय ब्रज क्षेत्र में बोली जाती है। सूरदास, रहीम, रसखान, केशव, घनानंद, बिहारी आदि कवियों ने अपनी रचनाएँ इसी भाषा में लिखी हैं भारतीय प्रांत उ.प्र. ‘अवध क्षेत्र’ लखनऊ, इलाहाबाद, रायबरेली, बाराबंकी आदि क्षेत्रों में अवधी भाषा बोली जाती है। आजमगढ़, वाराणसी, गोरखपुर में भोजपुरी भाषा बोली जाती है।


Related Questions - 1


‘नाभिकीय भौतिकी’ परिभाषिक शब्द किस क्षेत्र में बोला जाता है?


A) प्रशासन
B) विज्ञान
C) शिक्षा
D) वाणिज्य

View Answer

Related Questions - 2


संविधान के अनुच्छेद 351 में किस विषय का वर्णन है?


A) संघ की राजभाषा
B) उच्चतम न्यायालय की भाषा
C) पत्राचार की भाषा
D) हिन्दी भाषा के विकास से सम्बन्धित निर्देश

View Answer

Related Questions - 3


निम्नलिखित विधि के क्रियारुपों को उनकी बोली के साथ सुमेलित कीजिये-

 

(a) करो        1. अपभ्रंश

(b) करहु       2. भोजपुरी

(c) करौ        3. अवधी

(d) करा        4. बाँगरु

                   5. ब्रज

 

कूट : (a) (b) (c) (d)


A) 4 3 5 2
B) 5 1 3 4
C) 2 3 4 5
D) 1 5 2 3

View Answer

Related Questions - 4


मध्यकालीन भारतीय आर्यभाषा काल-


A) 500 ई. पूर्व से 1000 ई. तक
B) 1000 ई. से 21वीं तक
C) 1500 ई. पूर्व से 500 ई. पूर्व तक
D) 500 ई. से 1000 ई. तक

View Answer

Related Questions - 5


‘ब्रजभाषा’ का केन्द्रीय क्षेत्र है:


A) लखनऊ
B) इलाहाबाद
C) मथुरा
D) वाराणसी

View Answer