Question :

किसी बंद कमरे में कोयला या चारकोल का जलना घातक होता है क्योंकि-


A) इससे कार्बन मोनोऑक्साइड जैसी जहरीली गैस उत्पन्न होती है
B) इसके जलने की प्रक्रिया सम्पूर्ण ऑक्सीजन शोषित कर लेती है अतः सांस लेने में कठिनाई होती है
C) इससे उत्पन्न ऊष्मा असह्य होती है
D) इससे आग लगने का गम्भीर खतरा होता है

Answer : A

Description :


किसी बंद कमरे में कोयला या चारकोल का जलना घातक होता है क्योंकि  इससे कार्बन मोनोऑक्साइड जैसी जहरीली गैस उत्पन्न होती है


Related Questions - 1


गोबर गैस का मुख्य घटक है -


A) कार्बन डाइऑक्साइड
B) ऐसीटिलीन
C) एथिलीन
D) मीथेन

View Answer

Related Questions - 2


ऐसीटिक अम्ल के जलीय विलयन का pH2 है। उसमें निम्नलिखित के मिलाने से उसका pH मान बढ़ जाएगा -


A) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल
B) साधारण लवण
C) जलीय अमोनिया
D) इक्षु शर्कारा

View Answer

Related Questions - 3


रिसर्पिन नामक दवा निम्नलिखित के उपचार में काम आती है -


A) संधिशोध (arthritis)
B) पीड़ा निवारण
C) उच्च रक्तदाब घटना
D) अधिक धड़कन (high palpitation) कम करना

View Answer

Related Questions - 4


लार की प्रकृति –


A) उदासीन है
B) अम्लीय है
C) क्षारकीय है
D) उभयधर्मी (amphoteric) है

View Answer

Related Questions - 5


अर्धसंश्लेशित पेनिसिलिन का एक उदाहरण हैं-


A) एम्पिसिलिन
B) एमोक्सिसिलिन
C) टेरामाइसिन
D) ऑक्सिपुइन

View Answer