Question :

किस शासक ने स्वयं को 'लिच्छवी दोहित्र' कहा है ?


A) चंद्रगुप्त प्रथम
B) समुद्रगुप्त
C) चन्द्रगुप्त द्वितीय
D) अजातशत्रु

Answer : B

Description :


समुद्रगुप्त ने स्वयं को लिच्छवी दौहित्र कहा है। समुद्रगुप्त लिच्छवी राजकुमारी कुमार देवी से उत्पन्न हुआ था। समुद्रगुप्त के इतिहास को जानने का प्रमुख स्रोत उसका प्रयाग प्रशस्ति लेख है। इसी में उसे लिच्छवी दौहित्र कहा गया है और इस प्रशस्ति की रचना उसके सन्धि विग्रह हरिषेण ने की थी। समुद्र गुप्त के छः प्रकार के स्वर्ण सिक्के गरुड़ प्रकार, धनुर्धारी प्रकार, परशु प्रकार, अश्वमेघ प्रकार, व्याघ्रहनन प्रकार, वीणा वादन से इसके काल के इतिहास को जाना जाता है।


Related Questions - 1


बिहार औद्योगिक प्रोत्साहन नीति के अंतर्गत औसत विद्युत मांग 2050 मेगावाट से संबंधित कौन-सा कथन सत्य है?


A) बिहार में निबंधित मेंझोली/छोटी इकाइयों द्वारा उत्पादित वस्तुओं पर सिर्फ 1% प्रतिशत केंद्रीय बिक्री कर देय।
B) बीमार तथा बंद पड़ी इकाइयों के पुनरुधार द्वारा के लिए एक संग्रह कोष का निर्णय।
C) राज्य में बिजली उत्पादन के लिए संयंत्र मशीनरी पर हुए खर्च की 50 प्रतिशत राशि अदायगी और सात वर्षो तक विद्युत कर में सौ प्रतिशत छूट देने का निर्णय।
D) उपर्युक्त सभी।

View Answer

Related Questions - 2


बिहार प्रदेश के कुल क्षेत्रफल में कितना क्षेत्र सिंचित है?


A) 43.67 लाख हेक्टेयर
B) 40.12 लाख हेक्टेयर
C) 56.67 लाख हेक्टेयर
D) 46.67 लाख हेक्टेयर

View Answer

Related Questions - 3


बिहार में साइमन कमीशन के बहिष्कार के संयोजक कौन थे?


A) सर अली इमाम
B) सैय्यद हसन इमाम
C) राजेन्द्र प्रसाद
D) देवकी नंदन

View Answer

Related Questions - 4


वर्ष 2001 से 2011 के दशक से बिहार में जनसंख्या में 25.42 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। बतायें यह देश की जनसंख्या वृद्धि से ________ है।


A) कुछ कम
B) अधिक
C) बहुत कम
D) समान

View Answer

Related Questions - 5


प्रथम जैन संगीति का आयोजन पाटलिपुत्र में हुआ था, जिसमें कौन से कार्य हुए थे?


A) जैन धर्म ग्रंथों का अंतिम रुप में संकलित कर लिपिबद्ध किया गया।
B) जैन धर्म के महत्वपूर्ण 12 अंगों काप्रणयन किया गया एवं जैन धर्म के दो भागों-श्वेताम्बर एवं दिगम्बर में विभाजन हुआ।
C) उपर्युक्त (1) और (2) दोनों
D) इनमें से कोई नहीं

View Answer