Question :

पादप वृद्धि नियामक का उदाहरण है-


A) इन्डोलऐटीक अम्ल
B) प्रोपेक्लोर
C) एमिटसोल
D) पैराक्वैट

Answer : A

Description :


पादप वृद्धि नियामक का उदाहरण इन्डोलऐटीक अम्ल है।

 

ऑक्सिन (Auxins) का खोज डार्विन (1880) ने किया इसके उदाहरण है।

- In dole acetic acid (IAA)

- In dole Buteric acid (IBA)

2.4.D. (2.4 Dichloro Phenoxy Acetic Acid)

 

यह पौधे के वृद्धि में सहायक होता है. फूलों एवं फलों को झड़ने से बचाता है बीज हीन फल के उत्पादन में सहायक होता है। यह खर पतवार पर नियंत्रण रखता है।


Related Questions - 1


बहुलकी प्रकृति का पदार्थ नहीं है -


A) नाइलॉन
B) सेल्युलोज
C) मंड
D) ग्लूकोज

View Answer

Related Questions - 2


सभी अम्लों में निम्नलिखित तत्व अनिवार्य रुप से होता है -


A) ऑक्सीजन
B) क्लोरीन
C) सल्फर (गंधक)
D) हाइड्रोजन

View Answer

Related Questions - 3


किसके जलने से कार्बन डाइऑक्साइड गैस निकलती है?


A) सल्फर
B) मैग्नीशियम
C) हीरा
D) चाँदी

View Answer

Related Questions - 4


बिटुमेनी कोयला से कोक का उत्पादन निम्न प्रक्रम से होता है-


A) भंजन
B) संश्लेषण
C) प्रतिस्थापन
D) भंजन आसवन

View Answer

Related Questions - 5


‘झाग’ निम्नलिखित का एक उदाहरण है-


A) किसी द्रव में परिक्षिप्त (dispersed) गैस
B) जैल (gel) में परिक्षिप्त एक द्रव
C) किसी द्रव में परिक्षिप्त एक ठोस पदार्थ
D) किसी द्रव में परिक्षिप्त एक द्रव

View Answer