Question :

प्राचीन भारत में साम्राज्यवाद की शुरुआत या विकास का श्रेय किसको दिया जाता है ?


A) मगध को
B) अवन्ति को
C) वज्जि को
D) वत्स का

Answer : A

Description :


प्राचीन भारत में साम्राज्यवाद की शुरुआत या विकास का श्रेय मगध को दिया जाता है। छठी शताब्दी ई.पू. में और उसके पश्चात् उत्तर भारत में जिन राज्यों के मध्य राजनीतिक एकाधिकार के लिए संघर्ष चल रहा था, उनमें मगध, अवन्ति, वत्स और कोशल प्रमुख थे। भौगोलिक दृष्टि से ये सभी राज्य भारत के केन्द्र में स्थित थे। इसी समय राज्यों में साम्राज्य स्थापना की प्रवृत्ति का सूत्रपात हुआ। जिसके परिणामस्वरूप मगध ने अन्य तीन प्रमुख राज्यों पर अपना एकाधिपत्य स्थापित किया और अपने राज्य को साम्राज्य का स्वरूप प्रदान किया। प्राचीन मगध साम्राज्य में आधुनिक बिहार के दक्षिणी भाग में स्थित पटना तथा गया जिले के क्षेत्र थे।


Related Questions - 1


बिहार के बड़हिया ताल क्षेत्र में किस फसल की प्रधानता है?


A) चना
B) मक्का
C) गेहूँ
D) धान

View Answer

Related Questions - 2


मध्यकाल में बिहार आये ईरानी यात्रियों में कौन एक धर्माचार्य था ?


A) अब्दुल लतीफ
B) मुल्ला बहबहानी
C) मुहम्मद सादिक
D) मुल्ला तकिया

View Answer

Related Questions - 3


बिहार में इंदिरा आवास योजना तथा एक लाख कुँआ योजना एक वृहत राष्ट्रीय गरीबी योजना की अंगीभूत इकाइयाँ रही हैं। यह योजना कौन-सी है?


A) ग्रामीण समेकित विकास कार्यक्रम (IRDP)
B) राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार कार्यक्रम (NREP)
C) सामुदायिक विकास कार्यक्रम
D) जवाहर रोजगार योजना

View Answer

Related Questions - 4


बिहार में सर्वाधिक चार सकल जिला घरेलू उत्पादन वाले जिले का (क्रम घटते या आरोही क्रम में) कौन-सा है?


A) पटना, बेगूसराय, पᵒ चंपारण, गया
B) पटना, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, गया
C) पटना, बेगूसराय, मुजफ्फरपुर, गया
D) पटना, नालंदा, गया, मुजफ्फरपुर

View Answer

Related Questions - 5


राजगीर में प्रथम बौद्ध संगीति कहाँ आयोजित हुई थी?


A) 583 ई. पू.
B) 483 ई. पू.
C) 383 ई. पू.
D) 468 ई. पू.

View Answer