Question :

एक जल भरे बीकर में बर्फ का एक टुकड़ा तैर रहा है, बर्फ के पिघलने पर बीकर में जल का तल -


A) ऊपर उठ जाता
B) नीचे गिर जाता
C) पूर्ववत् बना रहेगा
D) पहले ऊपर उठेगा तत्पश्चात् नीचे गिर जाएगा

Answer : C

Description :



Related Questions - 1


सूर्यास्त के पूर्व सूर्य गहरा नारंगी-लाल-आभायुक्त प्रतीत होता है क्योकिं -


A) दिन के अन्त में सूर्य अति तप्त होता है
B) संध्या में सूर्य में हीलियम की मात्रा में वृद्धि हो जाती है
C) सूर्य केवल नारंगी-लाल वर्ण का प्रकाश उत्सर्जित करता है
D) सूर्य के प्रकाश को अधिक मोटे वायुमंडल में गमन करना पड़ता है जिससे अन्य वर्ण प्रकीर्णित हो जाते हैं और पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाते हैं

View Answer

Related Questions - 2


किसी झील की बर्फ जमी सतह का ताप - 15˚ C हो तो इसके ठीक नीचे झील में जल (बर्फ के संपर्क की जल सतह) का ताप क्या होगा ?


A) 0˚ C
B) 4˚ C
C) -15˚ C
D) -7.5˚ C

View Answer

Related Questions - 3


इस्पात की गेंद पारे पर तैरती है, क्योंकि -


A) पारा सभी धात्विक गेंदों को अपने में नहीं डूबने देता
B) पारा द्रवरुपी एक धातु ही है
C) इस्पात की अपेक्षा पारे का घनत्व अधिक है
D) इस्पात की गेंद को समुचित संमजन द्वारा किसी भी द्रव पर तैराया जा सकता है

View Answer

Related Questions - 4


निर्वातित (evacuated) विद्युत् बल्ब के तन्तु से कांच-आवरण तक ऊष्मा संचरण किस प्रक्रिया से होता है ?


A) चालन (conduction)
B) संवहन
C) विकिरण
D) ऊष्मा का संचरण निर्वात् के माध्यम से नहीं होता

View Answer

Related Questions - 5


डी◦ सी◦ की आपेक्षा ए◦ सी◦ के लाभ यह है कि -


A) इसमें अपेक्षाकृत अधिक ऊर्जा होती है
B) इसमें वोल्टता के उतार-चढ़ाव नहीं होते
C) इसकी जनन (उत्पादन) लागत कम आती है
D) यह कम ऊर्जा हानि के साथ लम्बी दूरी तक (संचरित) की जा सकती है

View Answer