Question :

विद्युत परिपथ में संधारित्र (capacitor, condenser)का प्रयोग -


A) वोल्टता के अपचयन (step down) हेतु करते हैं
B) वोल्टता के उच्चयन (step up) हेतु करते हैं
C) विद्युत आवेश के संग्रहण हेतु करते हैं
D) विद्युत आवेश उत्पन्न करने हेतु करते हैं

Answer : C

Description :



Related Questions - 1


नाभिकीय रिऐक्टर में विमन्दक का कार्य -


A) द्वितीयक (secondary) न्यूट्रॉनों की संख्या को विमन्दित करना है
B) द्वितीयक न्यूट्रॉनों को धीमा करना है
C) विखंडनीय नाभिकों की संख्या में वृद्धि करना है
D) विखंडन अभिक्रिया का नियंत्रण करना है

View Answer

Related Questions - 2


कांच की स्वच्छ प्लेट पर जल डालने पर वह पतली परत के रुप में फैल जाता है जबकि पारा डालने पर वह गोलीय बूंद के रुप में बना रहात है इसका कारण यह है कि-


A) पारा एक धातु है
B) जल की अपेक्षा पारे का घनत्व अधिक है
C) कांच के साथ पारे के आसंजन की अपेक्षा जल का ससंजन अधिक है
D) कांच के साथ जल के आसंजन की अपेक्षा जल का ससंजन अधिक है

View Answer

Related Questions - 3


परमाणु में नाभिक परिवर्तनों के फलस्वरुप तरंग/किरणें कौन-सी हैं ?


A) अवरक्त किरणें
B) प्रकाश तरंगें
C) X- किरणें
D) Y- किरणें

View Answer

Related Questions - 4


किसी उपग्रह को पृथ्वी से बहुत ही परिशुद्ध रुप से -


A) डाप्लर प्रभाव की सहायता से पथांकित किया जा सकता है
B) रडार की सहायता से पथांकित किया जा सकता है
C) सोनार की सहायता से पथांकित किया जा सकता है
D) जीमान प्रभाव की सहायता से पथांकित किया जा सकता है

View Answer

Related Questions - 5


किसी वस्तु का वास्तविक प्रतिबिम्ब प्राप्त करने हेतु आवश्यक दर्पण कौन-सा होगा ?


A) समतल दर्पण
B) अवतल दर्पण
C) उत्तल दर्पण
D) कोई भी दर्पण वास्तिविक प्रतिबिम्ब नहीं बना सकता

View Answer