Question :

जो कहा न जा सके -


A) अकथनीय
B) अक्षम्य
C) अजर
D) अगभ्य

Answer : A

Description :



Related Questions - 1


निर्देश :- नीचे दिए गए प्रत्येक प्रश्न में वाक्य के पहले और अंतिम भागों को क्रमश: 1 और 6 की संख्या दी गयी है | इनके बीच में आने वाले अंशो को चार भागों में बाँटकर य, र, ल, व, की संख्या दी गयी है | ये चारों भाग उचित क्रम में नहीं हैं इन्हें ध्यान से पढ़कर दिए गए विकल्पों में से उचित क्रम चुनिए जिससे वाक्य का निर्माण हो |

 

(1) सामाजिक जीवन में

(य) क्रोध की जरुरत बराबर पड़ती है

(र) मनुष्य दुसरों के द्वारा पहुँचाए जाने वाले बहुत से

(ल) यदि क्रोध न हो तो

(व) कष्टों की चिर निवृति का

(6) उपाय ही न कर सके।


A) य ल र व
B) र य ल व
C) ल र व य
D) व य र ल

View Answer

Related Questions - 2


‘तिमिर’ का विलोम शब्द है -


A) आलोक
B) किरण
C) रंगीन
D) रंगहीन

View Answer

Related Questions - 3


‘Agenda’ का हिन्दी पर्याय है


A) कार्यवृत्त
B) कार्यसूची
C) कार्यकारी
D) कार्यकाल

View Answer

Related Questions - 4


आडम्बर बहुत, किन्तु वास्तविकता कुछ नहीं के लिए सही लोकोक्ति है -


A) आँख का अंधा नाम नयनसुख
B) ऊँची दुकान फीका पकवान
C) ऊँट के मुँह में जीरा
D) खोदा पहाड़ निकली चुहिया

View Answer

Related Questions - 5


कोई भी छंद किसमें विभक्त रहता है ?


A) चरणों में
B) यति में
C) दोनों में ही
D) इनमें से कोई नहीं

View Answer