UP SI Practice Set Online Paper in Hindi
Time Loading.....

Question - 1


निर्देश (प्रश्न संख्या 1 से 5) आगे दिए गए गद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के सही/सबसे उचित उत्तर वाले विकल्प को चुनिए-

 

सौन्दर्य की परख अनेक प्रकार से की जाती है। बाह्म सौन्दर्य की परख समझना तथा उसकी अभिव्यक्ति करना सरल है। जब रुप के साथ चरित्र का भी स्पर्श हो जाता है जब उसमें रसास्वादन की अनुभूति भी होती है। एक वस्तु सुन्दर तथा मनोहर कही जा सकती है, परन्तु सुन्दर वस्तु केवल इन्द्रियों को सन्तुष्ट करती है, जबकि मनोरम वस्तु चित्त को भी आनन्दित करती है। इस दृष्टि से कवि जयदेव का बसन्त चित्रण सुन्दर है। ‘सुन्दर’ शब्द संकीर्ण है, जबकि मनोहर व्यापक तथा विस्तृत है। साहित्य में साधारण वस्तु विशेष प्रतीत होती है, तथा उसे मनोहर कहते हैं।

 

प्रश्न: सौन्दर्य की परख की जाती है- 




Total Question (160)