Question :

उसी तपस्वी से लंबे थे, देवदार दो चार खड़े ।

 

प्रस्तुत पंक्तियों में कौन-सा अलंकार है ?


A) अनुप्रास
B) प्रतीप
C) रुपक
D) यमक

Answer : B

Description :



Related Questions - 1


निर्देश :- नीचे दिए गए प्रत्येक प्रश्न में वाक्य के पहले और अंतिम भागों को क्रमश: 1 और 6 की संख्या दी गयी है | इनके बीच में आने वाले अंशो को चार भागों में बाँटकर य, र, ल, व, की संख्या दी गयी है | ये चारों भाग उचित क्रम में नहीं हैं इन्हें ध्यान से पढ़कर दिए गए विकल्पों में से उचित क्रम चुनिए जिससे वाक्य का निर्माण हो |

 

(1) गृहिणी गृहस्थ जीवनरुपी नौका की वह पतवार है

(य) इस नौका को

(र) बचाती हुई

(ल) थपेड़ों और भंवरों से

(व) जो अपनी बुद्धिबल, चरित्रबल और त्यागमय जीवन से

(6) किनारे तक पहुँचाती है।

 


A) य र ल व
B) र ल य व
C) ल र व य
D) व य ल र

View Answer

Related Questions - 2


दिए गए शब्द-युग्म के सही अर्थ-भेद का चयन कीजिए

 

अम्बुज-अम्बुधि


A) बादल-कमल
B) समुद्र-बादल
C) कमल-समुद्र
D) भ्रमर-मकरन्द

View Answer

Related Questions - 3


‘पंचवटी’ शब्द में समास होगा।


A) बहुव्रीहि
B) कर्मधारय
C) द्वन्द्
D) द्विगु

View Answer

Related Questions - 4


‘माँ’ शब्द का तत्सम है -


A) माता
B) मातृका
C) मातृ
D) अम्मा

View Answer

Related Questions - 5


जहाँ न पहुँचे रवि वहाँ पहुँचे कवि का अर्थ है -


A) कवि के लिए कहीं भी अगम्य नहीं
B) कवि निरकुंश होता है
C) कवि कल्पनाशील होता है
D) कवि भावप्रवण होता है

View Answer