Question :

जिनकी ध्वनि केवल मुख से निकलती है, वे हैं-


A) वृत्ताकार स्वर
B) संवृत स्वर
C) अनुनासिक स्वर
D) निरनुनासिक स्वर

Answer : D

Description :


जिन स्वरों के उच्चारण में हवा केवल मुख में निकलती है, वे निरनुनासिक स्वर कहलाते है, जैसे- अ, आ, इ।

 

अन्य विकल्प सम्बन्धित हैं-

वृत्ताकार स्वर- जिन स्वरों के उच्चारण में ओंठ वृत्तमुखी या गोलाकार होते हैं, जैसे- उ, ऊ, ओ, औ, ऑ।

संवृत्त स्वर – जिन स्वरों के उच्चारण में मुख द्वार लगभग बंद रहता है, जैसें- इ, ई, उ, ऊ।


Related Questions - 1


जिन ध्वनियों की गणना न स्वर में की जाती है न व्यंजन में, उसे क्या कहते हैं?


A) आगत
B) ऊष्म
C) अंतस्थ
D) अयोगवाह

View Answer

Related Questions - 2


निम्नलिखित में कौन स्वर नहीं है?


A)
B)
C)
D)

View Answer

Related Questions - 3


निम्न में से कौन-सा व्यंजन संघर्षी है?


A)
B)
C)
D)

View Answer

Related Questions - 4


निम्नलिखित वर्णों को उनके ध्वनि गुणों के साथ सुमेलित कीजिये-

 

 (A) 1. सघोष महाप्राण
 (B) 2. अघोष महाप्राण
 (C) 3. सघोष अल्पप्राण
 (D) 4. अघोष अल्पप्राण
  5. सघोष आनुवंशिक

 

कूट : (a) (b) (c) (d)


A) 4 2 3 1
B) 1 2 3 4
C) 2 3 4 1
D) 1 3 4 2

View Answer

Related Questions - 5


हिन्दी की ओष्ठ्य व्यंजन ध्वनि है-


A)
B)
C)
D)

View Answer